Sharadiya Navratri 2021: नवरात्रि के पहले दिन कलश स्थापना के लिए ये रहेगा शुभ मुहूर्त, जानें पूजा सामग्री लिस्ट

Sharadiya Navratri 2021: शारदीय नवरात्रि 2021 की शुरुआत 7 अक्टूबर से होने जा रही है, जो 14 अक्टूबर को जाकर संपन्न होंगी. दशहरा इस बार 15 अक्टूबर को मनाया जाएगा. नवरात्रि के इन नौ दिनों में मां दुर्गा के अलग-अलग नौ स्वरूपों की अराधना की जाती है. जो भक्त विधि-विधान से मां दूर्गा की पूजा करते हैं, और व्रत रखते हैं उनकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं. ज्योतिषों कि मानें तो मां दुर्गा इस बार पालकी पर सवार होकर पृथ्वी पर आने वाली हैं, क्योंकि गुरुवार से इस साल नवरात्रि प्रारंभ होने वाला है. तो वहीं हाथी पर सवार होकर मां दुर्गा प्रस्थान करेंगी.

navratri-2021-kalash-sthapana-shubh-muhurat-time-in-shardiya-navratri-2021

श्राद्ध 6 अक्टूबर को खत्म हो रहे हैं, और उसके अलगे दिन 7 अक्टूबर से नवरात्रि शुरू हो जाएंगे.कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त-नवरात्रि के पहले दिन घट स्थापना या कलश स्थापना किया जाता है जिसका हिंदू धर्म में विशेष महत्व होता है. ऐसे में इस साल कलश स्थापना का शुभ समय सुबह 6 बजकर 17 मिनट पर शुरू होगा और 7 बजकर 7 मिनट तक रहने वाला है. गुरुवार यानी 7 अक्टूबर को ही कलश स्थापना की जाएगी.

ये है पूजा सामग्री-मां दुर्गा की फोटो या मूर्ति, कपूर, वस्त्र, धूप, केसर, सिंदूर,कंघी, दर्पण, सुगंधित तेल, कंगन-चूड़ी, पानी वाला नारियल, चौकी, चौकी ले लिए लाल कपड़ा, आम के पत्तों का बंदनवार, दुर्गासप्शती किताब, बिंदी, मेहंदी, दूर्वा, पुष्प, सुपारी साबुत, आसन, पटरा, हल्दी, घी, पंचमेवा, लौंग, गुग्गुल, लोबान, कमल गट्टा, कपूर, रोली, हवन कुंड, मौली बेलपत्र, फूलों का हार, दीपबत्ती, दीपक, शहद, नैवेद्य, जायफल, पंचमेवा, शक्कर, लाल चुनरी, लाल वस्त्र, माचिस, अगरबत्ती, कलश, धूप, रूई या बत्ती, कुमकुम, साफ चावल, श्रृंगार का समान, बताशे और मिसरी, दुर्गा चालीसा की किताब, मेवे, हवन के लिए आम की लकड़ी, जौं, फल और मिठाई आदि.

सरकारी रिजल्टआईपीएल 2021टी20 विश्वकप 2021हेल्थ न्यूज और टेक न्यूज  से जुड़ी खबरों के लिए PM News के साथ बने रहें.

Stay Tune with PM News for Sarkari Result, IPL 2021ICC T20 World Cup 2021Tech News, & Health News.

Leave a Comment