7th Pay Commission 3% DA Hike: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, इस महीने 3% बढ़ सकता है DA

7th Pay Commission 3% DA Hike: 7वां वेतन आयोग : लंबे समय से महंगाई भत्ते (डीए) का इंतजार कर रहे केंद्रीय कर्मचारियों को 1 जुलाई से डीए और और पेंशनभोगियों को महंगाई राहत (डीआर) 28 फीसदी मिलना शुरू हो गया है. केंद्र सरकार ने महंगाई भत्ता यानी डीए 17 से बढ़ाकर 28 फीसदी कर दिया है. इस बीच अब कर्मचारियों के लिए एक और खुशखबरी है कि दिवाली से पहले 3 फीसदी महंगाई भत्ता और बढ़ने की उम्मीद है. अगर ऐसा होता है तो कुल महंगाई भत्ता 31 फीसदी हो जाएगा. यानी यह दिवाली पहले से ही कर्मचारियों के लिए खुशियां लेकर आ सकती है.

7th-Pay-Commission-Latest-News

7th Pay Commission 3% DA Hike

केंद्र सरकार के कर्मचारी इस महीने एक डबल बोनस मिलने वाला है क्योंकि सरकार द्वारा 1 जुलाई से उनके महंगाई भत्ते (डीए) में वृद्धि के बाद उन्हें उच्च हाउस रेंट अलाउंस (एचआरए) मिलने की उम्मीद है. इससे पहले नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार केंद्र ने 1 जुलाई से केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए DA और महंगाई राहत (DR) को क्रमशः 17% से बढ़ाकर 28% कर दिया. बाद में, केंद्र ने अगस्त 2021 से केंद्र सरकार के कर्मचारियों के HRA को बढ़ाने का भी फैसला किया.

कर्मचारी संघ की मांग है कि सरकार जल्द ही 3% महंगाई भत्ता बढ़ाने की घोषणा करे ताकि कर्मचारियों को महंगाई से कुछ राहत मिल सके. एआईसीपीआई इंडेक्स का डेटा आउट हो गया है और इंडेक्स 121.7 पर पहुंच गया है. ऐसे में जून 2021 के महंगाई भत्ते में 3% की बढ़ोतरी तय है. जून 2021 का सूचकांक 1.1 अंक बढ़कर 121.7 पर पहुंच गया है.

7th Pay Commission Latest News

वहीं केंद्र ने आदेश जारी करते हुए कहा था कि केंद्र सरकार के कर्मचारियों का डीए और एचआरए उनके मूल वेतन के आधार पर बढ़ाया जाए. सातवें वेतन आयोग के नियमों के अनुसार, केंद्र सरकार के कर्मचारियों के एचआरए में 3% की वृद्धि होगी, जब डीए मूल वेतन के 25% अंक को पार कर जाएगा. व्यय विभाग ने 2017 में एक आदेश जारी कर कहा था कि जब डीए 25% से अधिक हो जाएगा, तो एचआरए अपने आप संशोधित हो जाएगा.

इस हिसाब से महंगाई भत्ता 31.18 फीसदी होगा, लेकिन डीए की गणना राउंड फिगर में की जाती है. अगर जून में महंगाई भत्ते में 3 फीसदी की बढ़ोतरी होती है तो कुल डीए 31 फीसदी हो जाएगा. सातवें वेतन आयोग के मैट्रिक्स के मुताबिक केंद्रीय कर्मचारियों के लेवल-1 की सैलरी रेंज 18,000 रुपये से लेकर 56,900 रुपये तक है. अब 18,000 रुपये के मूल वेतन पर 28% की दर से मासिक महंगाई भत्ता 5040 रुपये, 31% से बढ़कर 5580 रुपये हो जाएगा. तदनुसार, वार्षिक वेतन में 6,480 रुपये की वृद्धि होगी.

1. कर्मचारी का मूल वेतन रु. 18,000. नया महंगाई भत्ता (31%) रु.5580/माह. अब तक का महंगाई भत्ता (28%) रु.5040/माह. कितना बढ़ा महंगाई भत्ता 5580-5040 = रु 540/माह. वार्षिक वेतन में वृद्धि 540X12 = रु 6,480

अब देखते हैं इस गणना से स्तर-1 का अधिकतम मूल वेतन 56,900 रुपये है.

1. कर्मचारी का मूल वेतन 56,900 रुपये. नया महंगाई भत्ता (31%) रु 17,639/माह. अब तक का महंगाई भत्ता (28%) 15,932 रुपये/माह. महंगाई भत्ते में वृद्धि = 17,639-Rs 15,932 रुपये = 1,707 रुपये/माह. वार्षिक वेतन में वृद्धि 1707X12 = रु 20,484

यानी सालाना सैलरी में 20,484 रुपये की बढ़ोतरी होगी. हालांकि इसमें एचआरए शामिल नहीं है. अंतिम वेतन एचआरए जोड़ने के बाद ही मिलेगा.

सरकारी रिजल्टआईपीएल 2021टी20 विश्वकप 2021हेल्थ न्यूज और टेक न्यूज  से जुड़ी खबरों के लिए PM News के साथ बने रहें. 

Leave a Comment